Bihar Assembly Election 2020

बिहार का रण: जेल में रहें या बाहर, चुनावी ब्रांड वैल्यू है जीरो- सुशील मोदी

elections NEWS Top News

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को झारखंड हाईकोर्ट से एक मामले में जमानत मिलने पर उप मुख्यमंत्री Sushil Modi ने शुक्रवार को तंज कसा। उन्होंने ताबड़तोड़ ट्वीट कर Lalu Yadav पर निशाना साधा। लिखा कि भ्रष्टाचार के गंभीर मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद को उनकी पार्टी ऐसे प्रचारित करती है, जैसे वे स्वाधीनता संग्राम में जेल गए हों। वे यह भी भ्रम फैलाते हैं कि यदि Lalu Yadav चुनाव के समय जेल से बाहर होते, तो EVM से जिन्न निकलता और पार्टी अच्छा प्रदर्शन करती। वे भूल गए कि 2010 के विधानसभा चुनाव में लालू प्रसाद जेल से बाहर थे और उनकी पार्टी मात्र 22 सीटों पर सिमट गई थी।

Sushil Modi ने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में राजद को 40 में से केवल 4 सीट मिली थी। वे अपनी पुत्री को नहीं जिता पाए थे। बिहार की राजनीति में Lalu Yadav की ब्रांड वैल्यू जीरो हो चुकी है। आगे लिखा कि लालू को जमानत मिली, वे बाइज्जत बरी नहीं हुए कि राजद जश्न मनाए। बकौल सुशील मोदी, एक हजार करोड़ के चारा घोटाले के 4 मामले में दोषी Lalu Yadav ने सिर्फ चाईबासा कोषागार से 33.67 करोड़ रुपये की अवैध निकासी के मामले में सजा की आधी अवधि जेल में बितायी है, इसलिए उन्हें केवल इसी मामले में जमानत मिली। अन्य मामलों में सजा की आधी अवधि भी नहीं काटी, इसलिए वे बाहर नहीं आ सकेंगे। उन्हें जमानत मिलने पर राजद ऐसे जश्न मना रहा है, जैसे वे बाइज्जत बरी कर दिए गए हों। राजद न्यायपालिका का सम्मान तभी करता है, जब फैसला उसके पक्ष में होता है।

READ MORE:   पांच थर्मल पावर प्‍लांट ठप, पूरे राज्‍य में ब्‍लैक आउट का खतरा,जानें पूरा मामला


चाइबासा कोषागार मामले में मिली जमानत

राष्‍ट्रीय जनता दल सुप्रीमो Lalu Yadav को झारखंड के चाइबासा कोषागार मामले में झारखंड हाईकोर्ट ने शुक्रवार को जमानत दे दी। हालांकि, अभी वे जेल में ही रहेंगे। दुमका कोषागार के एक और मामले में उनकी जमानत होनी बाकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *