testing of international travellers

जोखिम वाले देशों से आए 6 और यात्रियों की Covid जांच रिपोर्ट पाजिटिव आने से हड़कंप

NEWS Top News

देश में कोरोना (Corona) के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को दाखिल होने से रोकने के लिए सरकार ने एक बड़ा कदम उठाया है। नागर विमानन महानिदेशालय यानी डीजीसीए ने 15 दिसंबर से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को बहाल नहीं करने का फैसला किया है। इस बीच केंद्र सरकार की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक लखनऊ को छोड़कर देश के विभिन्न हवाई अड्डों पर आधी रात से बुधवार शाम 4 बजे तक कुल 11 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें ‘जोखिम की श्रेणी’ में शामिल देशों से उतरीं। इनमें 3476 यात्री सवार थे। सभी की आरटी-पीसीआर (RT- PCR) जांच की गई जिनमें 6 यात्री कोरोना (Corona) संक्रमित पाए। इन सभी के नमूनों को जीनोम सिक्‍वेंसिंग के लिए संबंधि‍त प्रयोगशालाओं में भेजा गया है।
डीजीसीए ने उठाया सख्‍त कदम

रिपोर्ट के मुताबिक वहीं डीजीसीए ने कोविड (COVID) के नए वैरिएंट ओम‍िक्रोन के जोखिमों को भांपते हुए 15 दिसंबर से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को बहाल नहीं करने का फैसला किया है। कोरोना के नए वैरिएंट ‘ओमीक्रोन’ के सामने आने के मद्देनजर यह कदम उठाया है। बीते 27 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अधिकारियों को दिए निर्देश के बाद डीजीसीए ने यह निर्णय लिया है। वहीं राहत की बात यह है कि देश में कोरोना संक्रमितों की संख्‍या में लगातार कमी आ रही है।
अब तक के उठाए गए एहतियाती कदम

अंतरराष्‍ट्रीय यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर जांच अनिवार्य किए जाने के निर्देश
विदेश से आने वाले संक्रमितों के नमूने जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजने का फैसला
जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए तत्काल संक्रमित लोगों के नमूने भेजने की सलाह
जोखिम की श्रेणी के मुल्‍कों से आने वाले यात्रियों पर सख्ती से निगरानी रखने के निर्देश
गृह मंत्रालय ने राज्यों से बाहर से आने वाले यात्रियों की कड़ाई से जांच करने को कहा
एयरपोर्ट, बंदरगाहों पर अधिकारियों को सख्‍त कोविड जांच का अनुपाल करने के निर्देश
15 दिन में अफ्रीकी देशों से 1000 यात्री मुंबई, 100 की जांच, रिपोर्ट का इंतजार
भारत बायोटेक ने ओमिक्रोन पर कोवैक्सीन के प्रभाव को परखने के लिए शोध शुरू किया
गृह मंत्रालय ने 31 दिसंबर तक बढ़ाई कोरोना संबंधी गाइडलाइंस
देश में कोरोना की स्थिति

24 घंटे में नए मामले 8,954

कुल सक्रिय मामले 99,023

24 घंटे में टीकाकरण 80.78 लाख

कुल टीकाकरण 124.77 करोड़

बेहतर रहा नवंबर का महीना

कोरोना (CORONA) महामारी के खिलाफ लड़ाई में नवंबर का महीना कुछ बेहतर रहा। पिछले साल मई के बाद पहली बार नवंबर में कोरोना (CORONA) संक्रमण के सबसे कम मामले 3.1 लाख दर्ज किए गए हैं। संक्रमण के मामलों की मासिक संख्या में भी नवंबर में लगातार छठी बार गिरावट आई है।
सक्रिय मामलों में आई गिरावट

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से बुधवार सुबह 8 बजे अपडेट किए गए आंकड़ों के मुताबिक 547 दिन बाद सक्रिय मामले भी घटकर एक लाख के नीचे आ गए हैं। पिछले 24 घंटे में सक्रिय मामलों में डेढ़ हजार से ज्यादा की गिरावट आई है और वर्तमान में इनकी संख्या 99,023 रह गई है जो कुल मामलों का 0.29 प्रतिशत है। इस दौरान 8,954 नए मामले मिले हैं और 267 लोगों की मौत हुई है, जिसमें 177 मौतें अकेले केरल और 35 मौतें महाराष्ट्र से हैं।

बुधवार सुबह 08:00 बजे तक कोरोना की स्थिति

नए मामले 8,954

कुल मामले 3,45,96,776

सक्रिय मामले 99,023

मौतें (24 घंटे में) 267

कुल मौतें 4,69,247

ठीक होने की दर 98.36 प्रतिशत

मृत्यु दर 1.36 प्रतिशत

पाजिटिविटी दर 0.81 प्रतिशत

सा.पाजिटिविटी दर 0.84 प्रतिशत

कुल 124.77 करोड़ डोज लगाई गई

कोविन पोर्टल के शाम 6 बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक अब तक कोरोना (Corona) रोधी वैक्सीन की कुल 124.77 करोड़ डोज लगाई गई हैं। इसमें 79.22 करोड़ पहली और 45.54 करोड़ दूसरी डोज शामिल हैं।
मैसुरु में केरल के 72 नर्सिग छात्र संक्रमित मिले

कर्नाटक के मैसुरु में केरल के 72 नर्सिग छात्रों को कोरोना (Corona) से संक्रमित पाया गया है। ये दो छात्र दो संस्थाओं के हैं। इस घटना के बाद जिला प्रशासन ने इन छात्रों के संपर्क में आने वालों के साथ ही कम से कम 5 हजार लोगों की जांच करने का आदेश दिया है, ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। केरल से मैसुरु आने वालों के लिए भी आरटी-पीसीआर( RT-PCR) टेस्ट अनिवार्य बना दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *