Rajasthan political

‘आ बैल मुझे मार’ का रवैया अपना रहे थे लोग, बीजेपी के साथ सरकार गिराने की साजिश – गहलोत

NEWS Top News

राजस्थान में बागी Sachin Pilot को उपमुख्यमंत्री पद से हटाने के बाद मुख्यमंत्री Ashok Gehlot पहली बार मीडिया के सामने आए। Ashok Gehlot ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की ओर से लगातार सरकार को कमजोर करने की कोशिश हो रही थी। जिनपर एक्शन लिया गया है वो लगातार ‘आ बैल मुझे मार’ के रवैये के साथ काम कर रहे थे।

मुख्यमंत्री Ashok Gehlot ने मंगलवार को राज्यपाल से मुलाकात की। इस दौरान मंत्रिमंडल में बदलाव की जानकारी दी। यहां मीडिया से बात करते हुए Ashok Gehlot ने कहा कि BJP की ओर से पैसे और एजेंसियों के दम पर सरकारों को कमजोर किया जा रहा है। पहले मध्य प्रदेश में किया गया, अब राजस्थान में किया गया है।

Ashok Gehlot ने कहा कि हम BJP के मंसूबों को पूरा नहीं होने देंगे। Sachin Pilot को लेकर उन्होंने कहा कि पार्टी की ओर से काफी मौका दिया गया, आज की बैठक उनके लिए रखी गई लेकिन कोई नहीं आया। कुछ नेता आना चाहते थे, लेकिन नहीं आ पाए।

Ashok Gehlot ने आरोप लगाया कि रिजॉर्ट से लेकर बगावत तक की सारी व्यवस्था BJP की ओर से की जा रही है। Ashok Gehlot ने कहा कि जनता ने हमारा साथ दिया, लेकिन BJP इसे स्वीकार नहीं कर पाई है। जिनपर एक्शन लिया गया उसपर हमें खुशी नहीं है, मैंने उनकी कोई शिकायत नहीं की। लेकिन उनका रवैया ऐसा ही रहा है, पिछले काफी वक्त से ‘आ बैल मुझे मार’ का रवैया रहा है।


CM अशोक गहलोत ने कहा कि पिछले 3 महीने से लगातार बयानबाजी की जा रही थी, लोगों की भावनाओं को समझना चाहिए। CM ने कहा कि मैंने किसी विधायक के साथ भेदभाव नहीं किया। पार्टी तोड़ना गलत है, कोई कह रहा है कि नई पार्टी बनाएंगे। हमारे साथ 122 लोग हैं और 107 कांग्रेस के हैं, अब फ्लोर टेस्ट की मांग की जा रही है। CM ने कहा कि आप फ्लोर टेस्ट की मांग कर रहे हो, इसका मतलब BJP के समर्थन से सरकार गिराना चाहते हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *