Bihar Politics: नीतीश कुमार ले सकते हैं बड़ा फैसला ?

NEWS Top News बिहार

अरुणाचल प्रदेश में जनता दल यूनाइटेड (JDU) के छह विधायकों को भाजपा (BJP) ने अपनी पार्टी में शामिल करा लिया। जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष और CM नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से जब इस बारे में पूछा गया तो उनका जवाब था कि शनिवार से शुरू होने वाली राष्ट्रीय परिषद में इस पर चर्चा हो सकती हैं। लेकिन विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल ने नीतीश कुमार से कहा हैं कि वो कब तक अपमान सहते रहेंगे और अब साहस दिखा कर कोई फ़ैसला करे और इसका स्वागत होगा ।

RJD नेता शिवानंद तिवारी ने एक बयान में शुक्रवार को कहा कि ऊंट पहाड़ के नीचे आ गया है। BJP ने अरुणाचल प्रदेश में नीतीश कुमार की पार्टी के छह विधायकों को तोड़कर अपनी पार्टी में शामिल कर लिया। य़ह गठबंधन धर्म के साथ घात है। इसका संदेश स्पष्ट है। अब हमें नीतीश कुमार की कतई परवाह नहीं है। नीतीश कुमार इस पर अपनी प्रतिक्रिया देने से बच रहे हैं।

शिवानंद तिवारी ने कहा कि उधर नीतीश सरकार के दोनों उपमुख्यमंत्री दिल्ली में प्रधानमंत्री जी से मिले हैं। प्रधानमंत्री जी ने उनको कहा है कि बिहार की जनता ने BJP पर भरोसा जताकर बहुमत दिया है। इसका ध्यान रखना है। यानि बहुमत नीतीश कुमार को नहीं BJP को मिला है।

अरुणाचल प्रदेश में JDU के 7 विधायक थे। 6 विधायकों के पाला बदलने से सिर्फ एक विधायक ही पार्टी में बचा है। अरुणाचल विधानसभा द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार रमगोंग विधानसभा क्षेत्र के तालीम तबोह, चायांग्ताजो के हेयेंग मंग्फी, ताली के जिकके ताको, कलाक्तंग के दोरजी वांग्दी खर्मा, बोमडिला के डोंगरू सियनग्जू और मारियांग-गेकु निर्वाचन क्षेत्र के कांगगोंग टाकू भाजपा में शामिल हो गए हैं।

READ MORE:   सुशांत के कुक को हिरासत में लेकर सीबीआई की पूछताछ शुरू

JDU ने 26 नवंबर को सियनग्जू, खर्मा और टाकू को पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया था और उन्हें निलंबित कर दिया था। इन छह विधायकों ने इससे पहले पार्टी के परिष्ठ सदस्यों को कथित तौर पर बताए बिना तालीम तबोह को विधायक दल का नया नेता चुन लिया था। अरुणाचल प्रदेश के प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष बीआर वाघे ने कहा कि हमने पार्टी में शामिल होने के उनके पत्रों को स्वीकार कर लिया है।

शुक्रवार को पटना में नीतीश कुमार ने सिर्फ इतना ही कहा कि कल से हम लोगों का कॉन्फ्रेंस (राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक) है। इसके अलावा उन्होंने कुछ भी नहीं कहा। BJP के साथ JDU सिर्फ बिहार में ही नहीं बल्कि केंद्र की मोदी सरकार में भी शामिल है। नीतीश कुमार के बयान से स्पष्ट है कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में जेडीयू इस मुद्दे पर चर्चा करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *