रोहित शर्मा पहली ही सीरीज में सुपरहिट, भारत की जीत के 5 बड़े हीरो

NEWS क्रिकेट देश

भारत ने टी20 विश्व कप की उपविजेता न्यूजीलैंड को 3 टी20 की सीरीज में क्लीन स्वीप (IND VS NZ T20 Series) कर दिया. कोलकाता में हुए तीसरे और आखिरी मैच भी टीम इंडिया जीती. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की बतौर फुलटाइम टी20 कप्तान यह पहली सीरीज जीत रही. इस सीरीज के लिए विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और रवींद्र जडेजा को आराम दिया गया था. इसके बावजूद भारत ने कीवी टीम का पूरी तरह सफाया कर दिया. खेल के हर डिपार्टमेंट में भारतीय खिलाड़ी न्यूजीलैंड पर भारी पड़े. इस सीरीज जीत में 5 खिलाड़ियों ने अहम भूमिका निभाई. इसमें रोहित शर्मा का नाम सबसे ऊपर है.

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने कप्तानी के साथ-साथ सीरीज में टीम के सलामी बल्लेबाज का रोल भी बखूबी निभाया. टी20 वर्ल्ड कप के 2 दिन बाद ही न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज का पहला टी20 मुकाबला खेला गया. रोहित भी पिछले 6 महीने से लगातार क्रिकेट खेल रहे हैं. उनके पास भी छुट्टी लेने का मौका था. लेकिन उन्होंने इस सीरीज में उतरने का फैसला किया. रोहित ने सीरीज के 3 मैच में सबसे अधिक 159 रन बनाए. उन्होंने पहले रांची और फिर कोलकाता टी20 में अर्धशतक जड़ा. सीरीज में उन्होंने 11 चौके और 10 छक्के जमाए.

रोहित शर्मा ने सीरीज के तीनों ही मुकाबलों में शानदार कप्तानी की. प्लेइंग-11 से चुनने से लेकर गेंदबाजी में बदलाव तय. हर पैमाने पर रोहित खरे उतरे. मैदान में वो बिल्कुल शांत नजर आए. रांची में दूसरा मुकाबला जीतने के साथ भारत ने सीरीज जीत ली थी. इस मुकाबले के बाद रोहित ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जो बात कही थी. उससे उनकी कप्तानी का मिजाज तय हो गया था.

READ MORE:   LIC के कुछ प्‍लान 31जनवरी हो जाएंगे बंद

उन्होंने मैच के बाद कहा था कि बेंच स्ट्रेंथ के खिलाड़ी लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. इसलिए मैदान पर खिलाड़ियों पर दबाव बना रहता है. मेरे लिए उन्हें खुलकर खेलने की आजादी देना अहम था. यह युवा टीम है, जिसमें से काफी ने ज्यादा मैच नहीं खेले हैं. रोहित ने इस सीरीज में वेंकटेश अय्यर और हर्षल पेटल को अंतरराष्ट्रीय डेब्यू का मौका दिया और दोनों ही खिलाड़ी उनकी उम्मीदों पर खरे उतरे.

हर्षल पटेल: हर्षल भी सीरीज जीत के दूसरे शिल्पकार हैं. उन्होंने इसी सीरीज से अंतरराष्ट्रीय़ डेब्यू किया. लेकिन उन्होंने जिस तरह से सीरीज में गेंदबाजी की. उससे कभी नहीं लगा कि वो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिए नए हैं. हर्षल ने रांची में हुए दूसरे टी20 में डेब्यू किया था. उन्होंने मैच में 4 ओवर में 25 रन देकर 2 विकेट लिए. उन्हें प्लेयऱ ऑफ द मैच चुना गया. यही सिलसिला उन्होंने कोलकाता में भी बरकरार रखा और 3 ओवर में 26 रन देकर 2 विकेट लिए. इसके अलावा हर्षल ने 11 गेंद में 18 रन भी बनाए. उन्होंने सीरीज में सबसे अधिक विकेट लिए.

केएल राहुल: केएल राहुल का भी बल्ला इस सीरीज में जमकर बोला. उन्होंने 2 मैच में 40 के औसत से 80 रन बनाए. राहुल ने रांची में हुए दूसरे टी20 में 49 गेंद में 65 रन की पारी खेली थी. इस मैच में केएल राहुल ने रोहित शर्मा के साथ पहले विकेट के लिए 117 रन जोड़कर भारत की सीरीज जीत की नींव रखी थी. यह पांचवां मौका था, जब इन दोनों बल्लेबाजों ने अंतरराष्ट्रीय टी20 में शतकीय साझेदारी की थी. उन्होंने बाबर आजम और मोहम्मद रिजवान के रिकॉर्ड की बराबरी की थी.

READ MORE:   UN में फिर भारत ने पाक की बखिया उधेड़ी, बताई सिख-हिंदू-ईसाईयों की असल हालत

अक्षऱ पटेल: इस बाएं हाथ के स्पिनर ने भी न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया. अक्षऱ ने 16.50 के औसत से 3 मैच में 4 विकेट लिए. उनकी इकोनॉमी भी 6 की रही और सीरीज में हर 16 गेंद में उन्होंने विकेट लिया.

आर अश्विन: आर अश्विन ने टी20 वर्ल्ड कप के अच्छे फॉर्म को न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में भी बरकरार रखा. इस ऑफ स्पिनर ने टी20 विश्व कप के अभ्यास मैच को छोड़कर 3 मैच में 6 विकेट लिए थे. न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में भी अश्विन ने किफायती गेंदबाजी की. उन्होंने सिर्फ 5.25 की इकोनॉमी रेट से रन दिए और कुल 3 विकेट हासिल किए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *