नींबू का प्रयोग करने से भाग जाएगा कोरोना वायरस

जीवन शैली

अगर आपके घर में नींबू है तो Coronavirus से बिल्कुल भी डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि ये वायरस से लड़ने में बहुत ही कारगर साबित होगा ऐसा कहा जा रहा है। हाथ धोने के लिए अगर आपके पास साबुन या सैनिटाइजर नहीं भी हो तो भी ये जानलेवा वायरस छू नहीं सकता। बस आपको बेहद आसान सा काम करना है. घर में आपको नींबू रखना है।

डाक्टर भी मानते हैं नींबू और राख को सबसे सुरक्षित…
पूर्व राष्ट्रपति के चिकित्सक और देश के जाने माने डॉक्टर मोहसिन वली का कहना है कि हाथ धोने के लिए अगर आप नींबू का इस्तेमाल करते हैं तो वायरस आपके करीब भी नहीं फटक सकता है। भारत में हाथ धोने के लिए नींबू का इस्तेमाल पुरातन काल से ही होता रहा है। बड़े बुजुर्ग भोजन से पहले या शौच के बाद भी घर में नींबू से हाथों को साफ करते थे। डॉ. वली ने आगे बताया कि हाथों को धोने के लिए इन पारंपरिक चीजों का इस्तेमाल भर से कोरोना वायरस के संक्रमण से बचा जा सकता है।

भारतीय परिवारों के लिए वरदान है नींबू…
मामले से जुड़े एक अधिकारी का कहना है कि देश में कोरोना वायरस फैलने के बाद ही अचानक बाजार में सैनिटाइजर की कमी हो गई है। लेकिन अभी भी आम लोग ये नहीं समझ पा रहे हैं कि कोरोना वायरस से बचने के लिए हाथ धोना अहम है, सैनिटाइजर या साबुन नहीं। यही वजह है कि ज्यादातर डॉक्टर बार बार हाथ धोने की सलाह दे रहे हैं। ऐसे में दूर-दराज और गांवों में, जहां सैनिटाइजर उपलब्ध नहीं होता है। ऐसे में आप नींबू का रस हाथों में मल कर धो सकते हैं। हाथों को साफ रखने का ये एक सटीक तरीका है।

एंटीमाइक्रोबियल है नींबू…
2017 में हुए एक शोध के अनुसार बैक्टीरिया को मारने में नींबू काफी प्रभावशाली है। दि जरनल ऑफ फंक्शनल फूड्स में बताया गया है कि इकोलाई जैसे महामारी से लड़ने के लिए नींबू का रस काफी प्रभावी रहा। वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर किसी भी संक्रमण के दौरान आपको सैनिटाइजर या साबुन नहीं भी मिलता है तो नींबू के रस से हाथ धोकर बीमारियों से बचा जा सकता है। जानकारों का कहना है कि हाथों को साफ करने के लिए सबसे पहले नींबू का रस को हथेली पर निचोड़ें। रस को दोनों हातों में अच्छे से मलें। इसके बाद चलते साफ पानी में दोनो हातों को अच्छे से धो लें। किसी साफ कपड़े से हाथों को सुखा लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *