बालों को टूटने से इस प्रकार बचाएं…

जीवन शैली

हार्ड वाटर यानी कठोर जल इसमें कैल्शियम मैग्नीशियम की अधिकता होती है जो हमारे बालों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। कई शहरों में भूमिगत जल ही हार्ड वॉटर होता है जबकि कुछ शहरों में सप्लाई वाले पानी के कारण भी बालों के झड़ने की समस्या हो सकती है। हार्ड वॉटर असल में सेहत के लिए उतना खतरनाक नहीं माना जाता है। लेकिन यह आपके बालों और स्किन के लिए गंभीर समस्या का कारण बन सकता है। हार्ड वॉटर से कई बार बालों को धोने पर पानी में मौजूद घुलनशील मिनरल्स बालों पर परत बना लेते हैं।

बालों पर मौजूद मिनरल्स की परत, नमी को बालों में प्रवेश करने से रोकती है। इसकी वजह से बाल धीरे-धीरे ड्राई, रूखे, बेजान और दोमुंहे होने लगते हैं। इसी के साथ बालों के उलझकर टूटने जैसी समस्याएं भी होने लगती हैं। अगर अच्छे से अच्छा तेल और शैंपू लगाने के बाद भी आपके बाल गिर रहे हैं। तो इसके पीछे आपके नहाने का पानी यानी कि हार्ड वाटर जिम्मेदार हो सकता है। बालों के लिए पानी का अच्छा होना उतना ही जरूरी है जितना कि स्वास्थ्य के लिए पानी का शुद्ध होना। ऐसे में अगर आप बालों को हार्ड वाटर यानी कि कठोर पानी से धोते हैं तो आपके बाल बेजान और रूखे हो सकते हैं।

सिरके का प्रयोग करें
सिरके में एसिड की अच्छी मात्रा पाई जाती है जो बालों पर जमी खारे पानी की परत को दूर करने का काम करता है। इसके लिए सिरके और ग्लिसरीन को मॉइस्चराइज़र के साथ मिलाकर अपनी त्वचा और बालों में लगाएं। ये आपकी त्वचा और स्कैल्प के pH को संतुलित करने में मदद करेगा। साथ ही यह बालों की जड़ों को मजबूत करेगा। इतना ही नहीं यह बालों को मुलायम बनाने में भी मदद करता है। ग्लिसरीन स्किन के इन्फेक्शन को दूर करने में भी मदद करती है और उसे स्मूथ बनाती है।

वाटर सॉफ्टनर
यह एक आधुनिक तकनीक है जिसमें मशीन के जरिए खारे पानी को निर्मल बनाया जाता है। हालांकि यह थोड़ा महंगा तरीका है लेकिन इसकी मदद से पानी में मौजूद कैल्सियम और मैग्नेशियम को निकाल दिया जाता है। जिससे पानी सॉफ्ट हो जाता है और स्किन व बालों को नुकसान नहीं पहुंचाता।

नींबू का इस्तेमाल करें
नींबू के रस में सिट्रिक एसिड होता हैं जो बालों से अतिरिक्त परत और डैंड्रफ को दूर करता है। इसके अलावा यह बालों की बहुत से समस्यायों को दूर करने में मदद करता है। नींबू का घोल बनाने के लिए अनुपात 1:3 में नींबू और पानी को अच्छे से मिला लें। शैम्पू करने के बाद इस मिश्रण को अपने बालों और स्कैल्प में लगाएं। 2 मिनट तक रखें और फिर बाल धो लें।

शावर फ़िल्टर
शावर फ़िल्टर का इस्तेमाल पिछले उपाय की तुलना में अधिक सस्ता उपाय है। यह पानी से चुने की मात्रा, क्लोरीन और अन्य रसायनों को निकालकर पानी को साफ़ कर देता है। इसका इस्तेमाल आसानी से बिना अधिक पैसे खर्च किये किया जा सकता है। इसके साथ ही यह खारे पानी में मौजूद अन्य धातु सामग्री और ठोस अशुद्धियों को निकालने में भी मदद करता है जिससे पानी आम प्रयोग के लिए सुरक्षित हो जाता है।

क्या असर होता है बालों पर कठोर पानी का
. बालों का पतला होना
. रूखे बेजान बाल
. बालों का गिरना
. बालों का टेढ़ा मेढ़ा होना फिर टूट जाना
. समय से पहले बालों का सफेद होना
. सिर में डैंड्रफ या रूसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *