चुनाव भी नहीं जीते और सरकारी नौकरी भी गई, खिलाडी निकले राजनीती में फिसड्डी

elections खेल हरियाणा

हम आज बात कर रहे हैं उन खिलाड़ियों की जो खेल के साथ-साथ नेतागीरी में भी हाथ आजमा रहे हैं। कुछ खिलाड़ियों को सफलता मिलती है तो कुछ नाकामयाब भी होते हैं। ऐसा ही कुछ हाल ही में हुए हरियाणा विधानसभा के चुनाव में भी देखने को मिला है, जहां चुनावी मैदान में अपनी किस्मत आजमाने के लिए रेस्लर बबीता कुमारी फोगाट और योगेश्वर दत्त उतरे, लेकिन ढेर हो गए। देश के लिए विदेशों में खेलना एक बात है, लेकिन देश का तिरंगा झंडा विदेशी सरजमीं पर बुलंद करना बड़ी बात है। किसी भी विधा में देश का नेतृत्व या प्रतिनिधित्व करने के लिए लोग जीवन खपा देते हैं। ऐसे ही कुछ भारतीय खिलाड़ी हैं जिन्होंने भारत का नाम देश-विदेशों में ऊंचा किया है, लेकिन अपनी ही जमीं पर वे ढेर हो गए।

हरियाणा में इस बार तीन भारतीय खिलाड़ियों ने भाजपा की सीट पर विधानसभा चुनाव लड़ा, जिसमें से दो खिलाड़ी हार गए। ओलंपिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त और कॉमनवेल्थ गेम्स की गोल्ड मेडलिस्ट बबीता फोगाट को विधानसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा है। वहीं, भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान संदीप सिंह को जीत मिली।
बीजेपी के बागी सोमबीर ने विधानसभा क्षेत्र चरखी दादरी से जीत हासिल की। इसी सीट से बबीता फोगाट भी चुनावी मैदान में थीं, लेकिन वे तीसरे पायदान पर रहीं। बबीता फोगाट को कुल 24502 वोट मिले, जबकि जीतने वाले निर्दलीय प्रत्याशी सोमबीर को 43589 वोट हासिल हुए। वहीं, जननायक जनता पार्टी के उम्मीदवार सतपाल सांगवान को 29319 मत प्राप्त हुए।

उधर, ओलपिंक मेडलिस्ट योगेश्वर दत्त ने 26 सितंबर को संदीप के साथ भाजपा को ज्वाइन किया था। बरोड़ा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने वाले योगेश्वर दत्त मौजूदा विधायक श्रीकृष्ण हुड्डा को कड़ी टक्कर दी, लेकिन 4840 वोटों से पीछे रह गए। हुड्डा ने 42566 वोट हासिल किए, जबकि योगेश्वर दत्त को 37726 वोट मिले। यहां तीसरे नंबर पर जेजेपी के भूपिंदर मलिक रहे।
वहीं, हॉकी का धाकड़ खिलाड़ी रहे संदीप सिंह ने अपनी पहली चुनावी पारी में जीत हासिल कर ली। जाट-सिख वाली कुरुक्षेत्र की पेहोवा विधानसभा सीट से संदीप सिंह ने 42613 वोट हासिल कर अपने कांग्रेसी प्रतिद्वंदी मंदीप सिंह चट्ठा को 5314 वोटों से मात दे दी। यहां तीसरे नंबर पर निर्दलीय प्रत्याशी स्वामी संदीप ओंकार रहे, जिन्हें 21775 वोट हासिल हुए।

योगेश्वर दत्त, संदीप सिंह और बबीता से पहले क्रिकेटर गौतम गंभीर, कीर्ति आजाद, नवजोत सिंह सिद्धु, मोहम्मद अजहरुद्दीन, मोहम्मद कैफ और चेतन चौहान से खिलाड़ी भी राजनीति में खुद को आजमा चुके हैं। इनके अलावा इस फेहरिस्त में राज्यवर्धन सिंह राठौर, असलम शेर खान, परगट सिंह और विजेंदर सिंह जैसे धुरंधर खिलाड़ी राजनीति के मैदान में उतर चुके हैं, जिनमें कुछ के हाथ सफलता लगी तो किसी को मायूसी झेलनी पड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *