हरियाणा: पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला के फॉर्म हाउस पर ED की RAID

हरियाणा

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला जूनियर बेसिक टीचर (जेबीटी) भर्ती घोटाले में 10 साल की सजा काट रहे तेजाखेड़ा स्थित फॉर्म हाउस पर बुधवार सुबह ईडी की टीम ने छापा मारा। टीम दो बजे के करीब चली गई, लेकिन जाते हुए नोटिस चिपका गई। बताया जा रहा है कि चंडीगढ़ जोन की ईडी टीम थी, जो सीआरपीएफ की गाड़ियों में आई थी। टीम ने पूरे फार्म हाउस को खंगाला है। फॉर्मन हाउस के बाहर पुलिस ने घेराबंदी कर रखी है। इस दौरान न किसी को बाहर जाने की अनुमति दिया गया, न अंदर आने दिया गया। एक किलोमीटर के एरिया में सीआरपीएफ भी तैनात की गई थी।

यह फॉर्म हाउस सिरसा जिले के डबवाली में स्थित है। पूर्व सीएम देवीलाल परिवार का यह पैतृक फॉर्म हाउस है, जहां देवीलाल रहते थे। इसके बाद पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला भी यहां रहते थे। मौजूदा समय में इसमें अभय सिंह चौटाला रहते हैं। ओमप्रकाश चौटाला व उनके पुत्र अजय चौटाला शिक्षक भर्ती घोटाले में 10 साल की सजा काट रहे हैं। ओमप्रकाश चौटाला पर आय से अधिक संपत्ति का मामला भी चल रहा है।

इसी केस में अप्रैल 2019 में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने चौटाला 3 करोड़ 68 लाख रुपए की संपत्ति जब्त कर ली थी। जब्त की गई संपत्ति में एक फ्लैट, एक प्लॉट, एक घर और जमीन शामिल थे। प्रवर्तन निदेशालय ने यह कार्रवाई आय से अधिक संपत्ति मामले में की थी। इसके बाद मई 2019 में ईडी ने चौटाला के बेटे अजय व अभय की संपत्ति का विवरण मांगा था। राजस्व विभाग से डबवाली और सिरसा ब्लॉक में उनकी प्रॉपर्टी का ब्योरा तत्काल देने को कहा था। इसमें डबवाली ब्लॉक की सात संपत्ति का ब्योरा उपलब्ध करवाया जाना था।

ओमप्रकाश चौटाला और उनके बेटे अजय और अभय चौटाला के खिलाफ कांग्रेस नेता शमशेर सिंह सुरजेवाला की शिकायत पर आय से अधिक संपत्ति का मुकदमा दर्ज किया गया था। 26 मार्च 2010 को सीबीआई ने चौटाला के खिलाफ आरोप पत्र दायर कर 6.09 करोड़ रुपये की कथित संपत्ति होने का आरोप लगाया था। सीबीआई ने ओमप्रकाश और उनके दोनों बेटों पर भी आय से अधिक संपत्ति होने की बात कही थी। यह केस अभी भी कोर्ट में चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *