कानपुर कांड: गैंगस्टर विकास दुबे के 16 सहयोगियों के नाम और फोटो जारी, देखिए पूरी लिस्ट

कानपुर- उत्तर प्रदेश के कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की शहादत मामले में फरार इनामी अपराधी Vikas Dubey की तलाश में STF सहित यूपी पुलिस की कई टीमें छापेमारी कर रही हैं। इस बीच कानपुर पुलिस ने Vikas Dubey के 16 सहयोगियों और वांछितों के नाम व फोटो जारी किए हैं। पुलिस को इनकी सरगर्मी से तलाश है।

इनमें अमर दुबे, विष्णु पाल सिंह उर्फ जिलेदार, शिव तिवारी, हीरू, नरेंद्र नागर, मनोज, चंद्रजीत, संतोष कुमार, गुड्डन त्रिवेदी, रणवीर उर्फ बउअन, लाला राम, अजीत कुमार, इंद्रजीत, लड्डे, सत्यम उर्फ लुट्टन, नाहर सिंह उर्फ धर्मेंद्र सिंह के नाम शामिल हैं।
इनकी सूचना मिलने पर 9454400286, 9454401470, 9454403691 पर संपर्क किया जा सकता है। बता दें इससे पहले कानपुर शूटआउट मामले में 18 नामजद अभियुक्तों की लिस्ट जारी की गई थी।


1- श्यामू बाजपेयी
2- छोटू शुक्ला, निवासी ग्राम कंजसी, चौबेपुर, कानपुर नगर
3- मोनू (जेसीबी चालक)
4- जहान यादव
5- दयाशंकर अग्निहोत्री
6- शशिकांत पंडित
7- शिव तिवारी
8- विष्णु पाल यादव, ग्राम सुज्जा निवादा, चौबेपुर, कानपुर नगर
9- राम सिंह, ग्राम मदारीपुरवा, चौबेपुर, कानपुर नगर
10- राम वाजपेयी
11- अमर दुबे
12- प्रभात मिश्रा
13- गोपाल सैनी
14- बीरू दुबे, ग्राम विकरू, कानपुर नगर
15- बउन शुक्ला
16- शिवम दुबे
17- बाल गोविंद
18- बउआ दुबे


विकास की रिश्ते में बहू और नौकरानी मुखबिरी में गिरफ्तार
कानपुर नगर के SSP ने इन 18 फरार अपराधियों पर 25-25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया है। उधर पुलिस ने विकास की करीबी 2 महिलाओं को गिरफ्तार करने का दावा किया है। पुलिस का आरोप है कि इन महिलाओं की वजह से भी कई पुलिस वालों की उस रात जान गई थी। पुलिस का कहना है कि ये महिलाएं छत पर मौजूद बदमाशों को नीचे छिपे पुलिसवालों की लोकेशन बता रहीं थीं। साथ ही कुछ पुलिस वालों ने गोलियों से बचने के लिए दरवाजा खोलने को कहा तो, दरवाजा खोलने की बजाए छत पर से बदमाशों को नीचे बुला लिया। महिलाओं संग संजय दुबे नाम के एक युवक को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है।

क्षमा दुबे ने नहीं खोला था दरवाजा

पुलिस ने क्षमा दुबे पत्नी संजय दुबे नाम की एक महिला को गिरफ्तार किया है। यह महिला रिश्ते में Vikas Dubey की पुत्रवधु बताई जा रही है। विकास के मकान के बराबर में ही क्षमा दुबे का घर है। पुलिस का आरोप है कि उस रात जब गांव में पुलिस को घेरकर छतों पर से गोलियां चलाई जा रहीं थी तो कुछ पुलिस वाले आड़ लेकर बदमाशों का मुकाबला कर रहे थे। इसी दौरान बुरी तरह से घिर चुके कुछ पुलिस वाले क्षमा दुबे के मकान का दरवाजा बजाने लगे। वो घर के अंदर शरण लेना चाहते थे। लेकिन क्षमा दुबे ने दरवाजा खोलने के बजाए सीढ़ियों के रास्ते छत पर जाकर बदमाशों को नीचे पुलिस वालों के होने की जानकारी दे दी। जिसके बाद बदमाशों ने उन पुलिस वालों की हत्या कर दी।

नौकरानी रेखा चीख-चीखकर बता रही थी लोकेशन

पुलिस ने Vikas Dubey की नौकरानी रेखा अग्निहोत्री को भी गिरफ्तार किया है। रेखा का पति दयाशंकर पहले ही पकड़ा जा चुका है। पुलिस का आरोप है कि जब बदमाश और पुलिस वालों के बीच गोलियां चल रहीं थी, तो कुछ पुलिस वाले दीवार की आड़ लेकर बदमाशों का मुकाबला कर रहे थे। तभी रेखा छत पर मौजूद बदमाशों को पुलिस वालों की लोकेशन बता रही थी। इस तरह कई पुलिस वालों को बदमाशों ने मार डाला। साथ ही चिल्ला रही थी कि कोई भी पुलिस वाला बचकर नहीं जाना चाहिए।